राजस्थान शिक्षा विभाग समाचार 2023

लेखक साथी

एक सुंदर कविता | उड़ाएँ प्यार की पतंग

images 2023 01 15T105555.895 | Shalasaral

उड़ाएँ प्यार की पतंग…………………….

images 2023 01 15t105555184072551854894530. | Shalasaral

सबको गले लगाकर उड़ाएँ प्यार की पतंग!
सोए हुए को जगाकर उड़ाएँ प्यार की पतंग!

ताययद* की तीरगी फिसरी हुई है चहुँ और !
आओ अंधेरा भगाकर उड़ाएँ प्यार की पतंग!

ना किसी को दें दगा ना किसी का छीने हक़!
सभी से हम वफाकर उड़ाएँ प्यार की पतंग!

वतन के लिए जिएँ और वतन के लिए मरें!
फर्ज़ अपना अदाकर उड़ाएँ प्यार की पतंग!

गले लगाएँ मजलूमों और बेसहारों को नवल!
प्यार दिलों से जताकर उड़ाएँ प्यार की पतंग!

©️ नवल किशोर “नवल”

ताययद*=भेदभाव
तीरगी=अंधेरा

Related posts
लेखक साथी

मनाएं आज खुशियां हम,पर्व गणतंत्र है यारो।

लेखक साथी

बसन्तपंचमी व गणतंत्र दिवस पर एक कविता

लेखक साथी

राजु सारसर "राज" | तुम्हारे लौट आनें की खुशी में

लेखक साथी

मिट्टी का बना हूँ मैं तो बिखरने से क्यूँ डरूँ?