राजस्थान शिक्षा विभाग समाचार 2023

Daily KnowledgeRaj Students

कहावत | कहाँ राजा भोज कहाँ गंगू तेली

images 2023 01 17T153526.524 | Shalasaral

(कहाँ राजा भोज कहाँ गंगू तेली) उत्तर भारत की एक मशहूर कहावत है। इसका सीधा सा मतलब है कि गलत तुलना करना। जब किसी बड़े शक्तिशाली व्यक्ति व एक कमजोर की तुलना कर दी जाती है तो इस कहावत का तुरन्त उपयोग होता है। उपस्थित में से कोई ना कोई कह देता हैं की यह तुलना गलत है क्योंकि –

image editor output image931531241 16739523866238231452657308529559 | Shalasaral

इस कहावत को फिल्मी गाने में भी पिरोया गया. यही नहीं, तंज कसने के लिए भी इस कहावत का इस्तेमाल किया गया. कहावत लोकप्रिय है, कहावत ऐसी है कि आम बोलचाल में कहीं न कहीं जुबां से निकल ही जाती है

कहाँ राजा भोज कहाँ गंगू तेली

एक मशहूर कहावत

कहावत के पीछे की कहानी

अल्पायु में सिंहासनारोहण के समय महान राजा भोज चारों ओर से शत्रुओं से घिरे थे। उत्तर में तुर्कों से, उत्तर- पश्चिम में राजपूत सामंतों से, दक्षिण में विक्रम चालुक्य,पूर्व में युवराज कलचुरी तथा पश्चिम में भीम चालुक्य से उन्हें लोहा लेना पड़ा। उन्होंने सब को हराया। तेलंगाना के तेलप और तिरहुत के गांगेयदेव को हराने से यह मशहूर कहावत बनी-

 "कहां राजा भोज, कहां गंगू तेली"

राजा भोज और गंगू तेली कौन है?

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से करीब ढाई सौ किलोमीटर दूर धार की नगरी को राजा भोज की नगरी कहा जाता है। 11 वीं सदी में ये शहर मालवा की राजधानी रह चुका है। राजा भोज 11 वीं सदी में मालवा और मध्य भारत के राजा थे। इतिहास के अनुसार राजा भोज शस्त्रों के साथ-साथ शास्त्रों के भी ज्ञाता माने जाते थे। 

जिस गंगू तेली का बात होती है वो कोई एक नहीं, बल्कि दो व्यक्ति थे। गंगू का असली नाम कलचुरि नरेश गांगेय था और तेली, चालुक्य नरेश तैलंग थे। एक बार गांगेय और तैलंग ने मिल कर राजा भोज की नगरी धार पर आक्रमण किया, मगर उन दोनों को राजा भोज के पराक्रम के आगे घुटने टेकने पड़े। इस लड़ाई के बाद धार के लोगों ने गांगेय और तैलंग की हंसी उड़ाते हुए कहा कि ‘कहां राजा भोज, कहां गंगू तेली।’ तभी से ये कहावत आज भी आम बोलचाल में इस्तेमाल की जाती है। 

तेली का मंदिर के बारे में अवश्य पढिये।

Related posts
Daily KnowledgeEducation Department Latestshala Darpanनारी शक्ति

शाला दर्पण |विद्यालयों हेतु आई एम शक्ति उड़ान योजना राजस्थान 2023 के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी, यूजर मैन्युअल व FAQ

Daily KnowledgeDaily MessageEmployment NewsPDF पीडीएफ कॉर्नरRPSC राजस्थान लोक सेवा आयोगरोजगारसमाचारों की दुनिया

युवा मंच पत्रिका | युवाओं हेतु अत्यंत महत्वपूर्ण सूचनाओं का नियमित संकलन फरवरी 2023

Daily MessageRaj StudentsRKSMBK

RKSMBK | दीक्षा पोर्टल पर विद्यार्थियों हेतु विषय सामग्री

Educational NewsRaj StudentsSocial Media

NCC | महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय, चैनपुरा, जोधपुर