राजस्थान शिक्षा विभाग समाचार 2023

Raj Studentsसमाचारों की दुनिया

सफलता के 7 मंत्र | जयपुर मोटिवेशनल कार्यक्रम के निष्कर्ष

84300 Image 4d34c1c3 f17c 48e6 9733 dd2ff6ee4d87 | Shalasaral

सफलता हर व्यक्ति का सपना होता है। प्रत्येक व्यक्ति अपने जीवन के प्रत्येक क्षेत्र यथा कैरियर, हेल्थ, सोशल लाइफ, फैमिली व सोसायटी में सफलता चाहता है। आज आयोजित एक कार्यक्रम में निम्नलिखित मन्त्र सफलता प्राप्ति हेतु सार्थक माने गए।

  • संकल्प से सिद्धि
  • सकारात्मक और बेहतर सोच
  • आत्मिक गुण, संस्कार और समता को अपनाना
  • इनर हेल्थ भी जरूरी
  • स्वयं को एम्पावर (सशक्त) करना
  • सकारात्मक माइंड पावर
  • मोबाइल का सही इस्तेमाल
सुकून और शांति के साथ सफलता पाने के लिए इनर हेल्थ भी जरूरी -बीके शिवानी - ब्रह्माकुमारी ने संकल्प से सिद्धि को बताया सफलता का आधार - आवासन मंडल और फिक्की फ्लो के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित मोटिवेशनल कार्यक्रम में अधिकारियों को दिए टिप्स - प्रमुख शासन सचिव श्री कुलदीप रांका और आवासन आयुक्त श्री पवन अरोड़ा ने भी रखे अपने विचार

जयपुर, 18 मार्च। बीके (ब्रह्माकुमारी) सिस्टर शिवानी ने कहा कि सुकून और शांति के साथ कामयाबी पाने के लिए इनर हेल्थ (आंतरिक स्वास्थ्य) पर ध्यान देना ज्यादा जरूरी है। उन्होंने कहा कि स्वयं को एम्पावर (सशक्त) करके ही हम समाज को एम्पावर कर सकते हैं।

सिस्टर शिवानी शनिवार को माहेश्वरी पब्लिक स्कूल के ऑडिटोरियम में आवासन मंडल और फिक्की फ्लो के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित मोटिवेशनल कार्यक्रम ‘मेनिफेस्टिंग एक्सीलेंस’ को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि आज के दौर में संकल्प से ही सिद्धि प्राप्त की जा सकती है। सकारात्मक और बेहतर सोच ही हमें कामयाबी और शांति की राह दिखा सकती है। संकल्प से सिद्धि में वह ताकत है, जिससे जो चाहते हैं, वह सिद्ध हो सकता है।

सिस्टर शिवानी ने कहा कि सफलता के लिए पावर ऑफ माइंड का सकारात्मक होना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि हम अपनी संस्कृति को बचाकर भी को बचाकर भी राष्ट्र सेवा कर सकते हैं।

मोबाइल का सही इस्तेमाल सबसे बड़ी चुनौती

सिस्टर शिवानी ने मौजूदा समय में मोबाइल के सही इस्तेमाल को सबसे बड़ी चुनौती बताया। उन्होंने कहा कि सोने से 1 घंटे पहले मोबाइल का त्याग और रात्रि को 10 बजे सोकर सुबह 5 बजे ब्रह्म मुहूर्त या अमृतवेला में उठकर हम इनर हेल्थ पर ज्यादा फोकस कर सकते हैं। उन्होंने मानसिक शांति के लिए आंतरिक शांति को पाने पर भी जोर दिया।

आत्मिक गुण और संस्कार की ओर लौटना होगा

प्रमुख शासन सचिव श्री कुलदीप रांका ने कहा कि हमने भौतिक सुविधाएं तो बहुत जुटा ली लेकिन आत्मिक गुणों में बढ़ोतरी नहीं कर पाए। इसके चलते जीवन में अशांति और तनाव में बढ़ोतरी हो रही है। उन्होंने कहा कि हमें एक बार फिर आत्मिक गुण, संस्कार और समता की ओर लौटना होगा।

कार्मिकों की सराहना और उत्साहवर्धन

आवासन आयुक्त श्री पवन अरोड़ा ने कहा कि एक दौर था, जब मंडल को बंद करने की चर्चाएं होने लगी थी लेकिन कार्मिकों की ऊर्जा और सकारात्मक सोच के चलते आज मंडल ने 8500 करोड़ रुपए का टर्नओवर को हासिल कर लिया है। उन्होंने इस अवसर पर मंडल कार्मिकों की दिल खोलकर प्रशंसा भी की। उन्होंने कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए माहेश्वरी पब्लिक स्कूल व स्पॉन्सर उज्जीवन बैंक का आभार व्यक्त किया।

ये रहे मौजूद

इस अवसर पर मंडल सचिव श्रीमती अल्पा चौधरी, मुख्य अभियंता श्री केसी मीणा सहित प्रदेशभर से आए मंडल के अन्य अधिकारीगण तथा फिक्की फ्लो जयपुर की चेयरपर्सन श्रीमती मुद्रिका धोका, नीता भूचरा सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related posts
समाचारों की दुनियास्कूली खेलकूद

World Boxing Championships: नीतू घंघास पहली बार में बनी वर्ल्ड चैंपियन

Social Mediaसमाचारों की दुनियास्कूली खेलकूद

स्विस ओपन 2023 | आज भारतीय पुरुष युगल की भिड़ंत मलेशियाई जोड़ी से साँय 7 बजे से

Educational NewsImportant Ordersसमाचारों की दुनिया

राजस्थान के राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 01-01-2023 की किश्त की मंजूरी

समाचारों की दुनिया

फरहान अख्तर | राजस्थान की फ़िल्म पर्यटन प्रोत्साहन नीति के मुरीद हुए