NMMS परीक्षा का शुल्क जमा कराने की प्रक्रिया।

नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम (एनएमएमएसएस) के लिए अब आवेदन 31 अक्टूबर तक किए जा सकते हैं। इस योजना के तहत कक्षा नौ के एक लाख स्टूडेंट्स को यह स्कॉलरशिप दी जाती है। कक्षा दस से 12 तक स्कॉलरशिप का रिन्यूवल करवाया जा सकता है। सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को ही यह छात्रवृत्ति मिलती है। आवेदन करने वाले छात्र की पारिवारिक आय 3.50 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। कक्षा सात में 55 प्रतिशत व इससे अधिक अंक हासिल करने वाले छात्र ही स्कॉलरशिप टेस्ट के लिए पात्र होते हैं।

NMMS फीस जमा कराने के चरण

1. SBI Collect का लिंक खोलना।

  1. शर्त दिशा- निर्देश पढकर () का निशान क्लिक करना।
  2. State Rajasthan का चयन करना।
  3. Govt. Department का चयन करना ।
  4. Director SIERT 8th Survey का चयन करना।
  5. Exam Fees का चयन करना।
  6. अपने विद्यालय का विवरण भरना डाइस कोड सही लिखें।
  7. Fees

Gn. = 50 रू.

SC = 30 रू.

ST = 30 रू.

CWSN = 30 रू.

  1. Remark में जिस परीक्षा की फीस जमा कर रहें है उसका नाम लिखना है।

NMMS EXAM 2022 या

NMMS EXAM 2021

10. उपर लिखी हुई टांजेक्शन ID (DUE.) नोट करना है।

  1. अगले पृष्ठ पर जाना है।
  2. फीस जमा कराने हेतु अपनी सुविधानुसार विकल्प का चयन करे। जैसे नेट बैंकिंग, डेबिट कार्ड / क्रेडिट कार्ड, यूपीआई आईडी, उसमें QR कोड स्कैन करने का विकल्प भी आता है। किसी भी विकल्प से फीस जमा करा सकते है ।
  1. Fees जमा होने के बाद इस पेज को Back नहीं करना है। इसमें फीस प्रिंट का विकल्प आएगा।
  2. Fees की रसीद डाउनलोड व प्रिंट करके रखे।
  3. इस रसीद पर ट्रांजेक्शन आई डी लिखी होती है। जैसे (DUE…..

नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम

नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम (NMMSS) योजना के माध्यम से आज देश में आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के मेधावी छात्रों को अपनी शिक्षा जारी रखने में बड़ी मदद मिल रही है। यह योजना ऐसे छात्रों को माध्यमिक स्तर पर यानि 8वीं कक्षा के पश्चात् अपनी शिक्षा जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु छात्रवृत्ति का अवसर प्रदान करती है। इस योजना के तहत आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर, 2022 है। इसलिए बिना देरी किए ऐसे छात्र योजना का लाभ लेने के लिए जल्द से जल्द आवेदन करें।

नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम (NMMSS) क्या है ?

आर्थिक रूप कमजोर छात्रों को अपनी आर्थिक तंगी की कारण कई बार अपने शिक्षा के अधिकार से वंचित होना पड़ता है। ऐसे छात्रों को जो कक्षा 8 वीं में अध्ययनरत हैं और अपनी माध्यमिक शिक्षा जारी रखने में असमर्थ हैं, उन्हें आगे पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से NMMS Scholarship को शुरू किया गया है। इससे वंचित और गरीब बच्चे भी माध्यमिक और उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे।

NMMS योजना 100% केंद्र प्रायोजित योजना हैं

‘नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम (NMMSS) को राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल (NSP)- छात्रों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति योजनाओं के लिए एक समग्र प्लेटफॉर्म- पर जोड़ा गया है। NMMS छात्रवृत्ति डीबीटी मोड के बाद सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (PFMS) के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक हस्तांतरण द्वारा चयनित छात्रों के बैंक खातों में सीधे वितरित की जाती है। यह 100 प्रतिशत केंद्र प्रायोजित योजना है।

NMMS योजना की पात्रता कोन रखता है?

जिन छात्रों के माता-पिता की सभी स्रोतों से आय 3,50,000 रुपए प्रति वर्ष से अधिक नहीं है, वे छात्रवृत्ति प्राप्त करने के पात्र हैं। छात्रवृत्ति के पुरस्कार के लिए चयन परीक्षा में बैठने के लिए छात्रों के पास कक्षा 7वीं परीक्षा में न्यूनतम 55% अंक या समकक्ष ग्रेड होना चाहिए। अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के छात्रों के लिए 5% की छूट है।

NMMS योजना के तहत छात्रवृत्ति के रूप में मिलने वाली राशि

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार, सरकारी सहायता प्राप्त और स्थानीय निकाय के स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के लिए कक्षा 9वीं से 12वीं कक्षा तक के चयनित छात्रों को हर साल एक लाख नई छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है और कक्षा 10वीं से 12वीं में उनकी निरंतरता व नवीनीकरण किया जाता है। छात्रवृत्ति की राशि 12,000 रुपए प्रति वर्ष है।

सत्यापन

सत्यापन के दो स्तर हैं, एल1 संस्थान नोडल अधिकारी (आईएनओ) स्तर है और एल2 जिला नोडल अधिकारी (डीएनओ) स्तर है। आईएनओ स्तर (L1) सत्यापन की अंतिम तिथि 15 नवंबर, 2022 है और डीएनओ स्तर (L2) सत्यापन की अंतिम तिथि 30 नवंबर, 2022 है।

कब तक है आवेदन का मौका ?

नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम (NMMSS) के लिए वर्ष 2022-23 के लिए आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर है।