अभिभावकों को शुभकामनाएं व रिकॉर्ड अपडेट सम्बन्धित निवेदन

शिक्षा के समग्र विकास में शिक्षक, शिक्षार्थी, स्कूल व अभिभावकों की विशेष भूमिका रहती है। अभिभावकों द्वारा ना केवल अपने बच्चों नके शैक्षणिक स्तर पर नजर रखी जाती है बल्कि साथ ही वे विद्यालय विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन भी करते है। दीपावली के शुभ अवसर पर समस्त अभिभावकों के अभिनन्दन के साथ ही एक संस्थाप्रधान द्वारा लिखित सन्देश भी सादर प्रस्तुत किया जा रहा है।

आदरणीय अभिभावक,

सादर नमस्कार,

वर्तमान समय में राजस्थान के स्कूल शिक्षा विभाग में दिपावली अवकाश चल रहे हैं और आप दीपोत्सव, निजी कार्य इत्यादि में अत्यंत व्यस्त हैं । विश्वास है कि बच्चे दिपावली का स्कुलो द्वारा दिया गया होमवर्क कार्य पूर्ण करते हुए घर की साज-सज्जा के काम में आपका सहयोग कर रहे होंगे।

यहाँ मैं आपको एक बात विशेष आग्रह के साथ अवगत करवाने जा रहा हूँ कि वर्तमान समय में विद्यार्थियों के स्कुल सम्बंधित समस्त कार्य ऑनलाइन और ऑटो सिस्टम से हो रहे हैं और इस कार्य मे संस्थाप्रधान व विद्यालयों के अध्यापक साथी बढ़ चढ़कर अपना योगदान दे रहे हैं । आधुनिक युग मे ऑनलाइन बढ़ते कार्य की समयानुसार पूर्णता हेतु आपके सहयोग की महती आवश्यकता विद्यालय परिवार द्वारा आपेक्षित की जाती है।

निवेदन है कि जब हम शिक्षक साथी जैसे ही ऑनलाइन कार्य करते हैं तो विद्यार्थी के आधार और जनाधार में अधूरे रिकोर्ड के कारण कार्य रुक जाता हैं । जिससे हम बच्चो को सरकारी योजनाओं के लाभ नही दिलवा पाते हैं | हमे तब बड़ी निराशा होती हैं क्योकि विद्यार्थियों हेतु राज्य सरकार द्वारा प्रदत्त की जाने वाली छात्रवृत्ति व प्रोत्साहन योजनाओं में आधार/ जनाधार कार्ड की आवश्यकता होती है।

आपसे आग्रह हैं कि इन दिवाली अवकाश में आप अपने बच्चो के जनाधार व आधार कार्ड में नाम की स्पेलिंग और जन्म तिथि में शुद्धिकरण का कार्य यथासम्भव पूर्ण करवाने का कार्य करवाये। इनका जनाधार और आधार में नाम की स्पेलिंग व जन्म तिथि वही होनी चाहिए जो विद्यालय के रिकोर्ड में हैं। इसके लिए आप बच्चे की अंक तालिका देख सकते हैं ।

इस क्रम में सादर निवेदन यह है कि आधार- कार्ड में नाम परिवर्तन मार्कशीट से हो जाएगा किन्तु जन्म तिथि में परिवर्तन जन्म प्रमाण पत्र से होता है। जैसा कि आप जानते ही है कि विभिन्न छात्रवृत्ति व प्रोत्साहन योजनाओ का लाभ वर्तमान में डीबीटी के माध्यम से सीधा लाभार्थियों के बैंक खाते में होने की व्यवस्था हो गई है अतः जनाधार व आधार दोनों में बच्चे का खाता भी अपडेट करवाना न भूले यह अत्यावश्यक हैं ।

• जनाधार में बैंक खाता ई मित्र की सहायता से होगा और आधार में खाता अपडेट बैंक में जाकर करवाना होगा।

• इस सभी गतिविधियों में समय लगेगा अतः आप आज से ही इन्हें अपडेट करवाना शुरू करें और अपने नजदीकी ई मित्र से जाकर सम्पर्क करें ।

हमनें बड़ी आशा के साथ के साथ यह सूचना आप तक भेजी हैं। अतः आपका सहयोग आवश्यक हैं।

नमस्कार और दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ ।